April 13, 2024

नानपारा तहसील, बहराइच। बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने तथा उनके चतुर्दिक विकास में अभिभावकों के साथ -साथ समस्त हितधारकों को उनकी जिम्मेदारियों के प्रति सजग करने के उद्देश्य से ब्लॉक संसाधन केंद्र नवाबगंज के परिसर में हमारा आंगन हमारे बच्चे कार्यक्रम का आयोजन किया गया। खंड शिक्षा अधिकारी राधेश्याम वर्मा के निर्देशन में आयोजित इस कार्यक्रम में विकास क्षेत्र के को-लोकेटेड आंगनबाड़ी केंद्रों में कार्यरत आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, नोडल शिक्षकों, संकुल शिक्षकों तथा निपुण बच्चों के साथ उनके अभिभावकों ने प्रतिभाग किया। इस एक दिवसीय कार्यशाला में संदर्भदाता विपिन प्रताप वर्मा व सुशील कुमार पोरवाल ने प्रतिभागियों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में पूर्व प्राथमिक तथा प्राथमिक शिक्षा के सम्बन्ध में दिए गए महत्वपूर्ण प्राविधानों की जानकारी दी। खंड शिक्षा अधिकारी राधेश्याम वर्मा ने
विद्यालयों को निपुण बनाने में प्री प्राइमरी शिक्षा के महत्व को रेखांकित करते हुए
शिक्षा सत्र 2024-25 में विकास क्षेत्र के शत-प्रतिशत विद्यालयों को निपुण बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया। इस दौरान विभिन्न विद्यालयों से आए 40 निपुण बच्चों को खंड शिक्षा अधिकारी ने स्टेशनरी किट देकर सम्मानित किया। कार्यशाला में 3 से 8 आयु वर्ग के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण बुनियादी शिक्षा सुलभ कराने एवं प्री प्राइमरी व प्राइमरी को एक साथ सम्मिलित होने पर शिक्षक एवं आंगनबाड़ी स्टाफ को एक साथ मिलकर काम करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। इस दौरान खंड शिक्षा अधिकारी राधेश्याम वर्मा ने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप 3 से 8 आयुवर्ग के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण बुनियादी साक्षरता सुलभ कराने के लिए शिक्षकों एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को जमीनी स्तर पर समन्वय स्थापित करते हुए काम करना होगा। कार्यशाला में मुख्य सेविका सुन्दरपति, दयावती, ममता वर्मा, एआरपी सुनील कुमार, विपिन सिंह,संदर्भ दाता विपिन प्रताप वर्मा, सुशील कुमार पोरवाल, नोडल संकुल शिक्षक जंगली प्रसाद, त्रिलोकी नाथ वर्मा, करूणा कृष्ण श्रीवास्तव, अरविंद वर्मा, अजय कुमार, विकास वर्मा, शिक्षक प्रदीप त्रिपाठी, शमीम खां,अभय सिंह आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *