July 23, 2024

 आश्रम आए युवक का शव लटका मिला

कानपुर । बिधनू थाना क्षेत्र के करौली आश्रम में इलाज कराने आए युवक की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव पिपरगवां गांव के बाहर जंगल में पेड़ से रस्सी के फंदे पर लटकता मिला। परिजन उसकी हत्या का आरोप लगा रहे हैं। हालांकि पोस्टमार्टम में हैंगिंग (फांसी लगाने) की बात सामने आई है। अब पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि उसने खुदकुशी की या फिर किसी ने फंदा बनाकर उसे पेड़ से लटकाया है।

पश्चिम बंगाल के पांचीपाड़ा उत्तरी दिनाजपुर निवासी अजय चौहान (30) कुछ दिनों से बीमार चल रहा था। वह शनिवार को बहन रीता और मां ललिता के साथ बिधनू क्षेत्र के करौली आश्रम पहुंचा था। आश्रम में गुरु पूर्णिमा की तैयारी चल रही थी। ललिता के मुताबिक उनसे कहा गया था कि गुरु पूर्णिमा के बाद इलाज होगा। वे लोग आश्रम में रुक गए थे।

रात को अजय शौच जाने के लिए आश्रम से निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। परिजन उसकी तलाश कर रहे थे, तभी ग्रामीणों से पता चला कि जंगल में किसी ने फांसी लगा ली है। वे मौके पर पहुंचे तो अजय का शव था। उसे देख उनके होश उड़ गए। मां और बहन बिलख-बिलख कर रोने लगीं। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मां ललिता ने अजय की हत्या का आरोप लगाया है।

ललिता के मुताबिक अजय के पैर जमीन पर छू रहे थे। जमीन पर शव के घसीटने के निशान थे। थाना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की पुष्टि हुई है। परिजनों की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *