February 26, 2024
Audience rejoiced in comedy and satire at Virat Kavi Sammelan

Audience rejoiced in comedy and satire at Virat Kavi Sammelan

विराट कवि सम्मलेन में हास्य व्यंग्य में श्रोता हुए लोट पोट
ललितपुर- तालबेहट श्रीमज्जिनेंद्र पंचकल्याणक महोत्सव के चौथे दिन विराट कवि सम्मलेन का आयोजन किया गया। जिसका शुभारम्भ डॉ. अनामिका जैन अम्बर ने विद्या देवी वसुधाय नम पंक्तियों से मंगलाचरण किया। सिंह गाय को एक घाट पर जलपान कराया पंक्तियों से जैन धर्म वंदना की। संचालक दमदार बनारसी के हास्य और व्यंग्य ने श्रोताओं को लोट पोट कर दिया। उन्होंने मित्रता पर कविता पाठ करते हुए सुग्रीव और विभीषण की राम से मित्रता, कर्ण दुर्योधन की मित्रता के दृष्टांत को प्रशंसा मिली। उनकी राम पर सियासत करने वाले राम को प्यारे हो जाओ कविता को वाह – वाही मिली। उन्होंने मन को झकझोर देने वाली कविता नौ माह पेट में रखकर दर्द सहती है मां और मां बाप का भरोसा तुम तोड़ मत देना सुनायी। विनोद पाल के हास्य व्यंग्य ने सभी को खूब हंसाया। उनकी हास्य कविता मैं फिर से पत्नी के पैर छू कर आया हूँ और बच्चों को संदेश सुन्दर सफल सलोने चुनना, गलत काम को मत चुनना ने सभी को प्रभावित किया। धर्मेंद्र सोलंकी भोपाल ने कवियों की कविता सुनने आये हो तो कवियों की कविता में ध्यान लगाइये। ऐसे उधड़ा भाग्य में अपना सिल सकता हूँ, विद्यासागर के भक्तों से मिल सकता हूँ। आँख पोंछकर मां कहती सब अच्छा हो जायेगा कविता पाठ कर सभी को मंत्र मुग्ध कर दिया। पंकज अंगार ललितपुर ने वीर रस में कविता पाठ किया एवं महावीर ने सत्य अहिंसा करुणा का उपदेश दिया कविता दिल को छूने वाली रही। अभिराज पंकज ने महिलाओं के सम्मान पर व्यंग्य करते हुए कहा मंदिर में महिला के नाम पर पूजा अर्चना उपासना आरती और पुरुष के नाम पर केवल घंटा। कविता हमारे गांव में फसलों की खुशियाँ लहलहाती हैं। जल तुम्हारे घर का पावन गंगाजल बन जायेगा, मां जो थक जाये तो उसके पाँव धोकर देखना। वेद पड़ना सरल है वेदना पड़ना कठिन। सृष्टि का श्रृंगार है कविता, जीवन का आधार है कविता। आदि अनेक कविताओं से सभी का मन मोह लिया। जिला गौरव अनामिका जैन अम्बर ने कविता जो मांसाहार करते हैं उन्हें इंसान नहीं कह सकते हैं, गिरनार हमारा है और कहीं अँधेरी रातों में ये वर्दी जाग रही होगी खूब सराही गयी। श्रोताओं की मांग पर उन्होंने जोगी सर्रार्रा र्रा र्रा र्रा और यू पी में बाबा पर खूब तालियां बटोरी। इस मौके पर दिगम्बर जैन मंदिर समिति, पंचकल्याणक समिति, अहिंसा सेवा संगठन, वीर सेवा दल, जैन युवा सेवा संघ, जैन मिलन सहित सकल दिगम्बर जैन समाज, नगर के गणमान्य सभ्रान्त नागरिक, समाजसेवी, वरिष्ठ पत्रकार, क्षेत्राधिकारी, प्रभारी कोतवाल आदि मौजूद रहे। संचालन मयूर चक्रेश जैन एवं आभार व्यक्त मोदी अरुण जैन बसार और विशाल जैन पवा ने संयुक्त रूप से किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *