इटली के 1982 विश्वकप के हीरो पाउलो रोसी का निधन

इटली के 1982 विश्वकप के हीरो पाउलो रोसी का निधन

रोम, 10 दिसंबर (वार्ता) इटली को वर्ष 1982 में अपने दम पर फीफा फुटबॉल विश्व कप जिताने वाले दिग्गज खिलाड़ी पाउलो रोसी का गुरुवार को निधन हो गया। वह 64 वर्ष के थे और लाइलाज बीमारी से पीड़ित थे।

पाउलो रोसी ने वर्ष 1982 के विश्वकप में शानदार प्रदर्शन करते हुए इटली को खिताब जिताया था। उन्होंने 982 के विश्वकप में अद्भुत प्रदर्शन करते हुए छह गोल दागे थे और अकेले अपने दम पर इटली को चैंपियन बनाया था।वह उस विश्व कप के शीर्ष स्कोरर रहे थे।

पाउलो रोसी का निधन ऐसे समय हुआ है जब फुटबॉल जगत अभी अर्जेंटीना के महान खिलाड़ी डिएगो माराडोना के निधन से उबर भी नहीं सका है। फुटबॉल जगत को मात्र 15 दिन के अंतराल में दो बड़े झटके लगे हैं। माराडोना का गत 25 नवम्बर को निधन हो गया था।

पाउलो इटली के आरएआई स्पोर्ट टीवी चैनल में बतौर विशेषज्ञ काम कर रहे थे। आरएआई ने गुरुवार को बताया कि पाउलो का लाइलाज बीमारी के कारण निधन हो गया। चैनल के स्पोर्ट प्रस्तोता एनरिको वर्रियल ने ट्वीट कर कहा, “बेहद दुखद खबर, पाउलो हम सभी को छोड़ कर चले गये। अविस्मरणीय पाउलो जिन्होंने हम सभी को वर्ष 1982 विश्व कप जितवा कर गौरवान्वित कर दिया था। वह हाल के वर्षों में आरएआई में एक कीमती और सक्षम सहयोगी भी थे।”

पाउलो की पत्नी फेडेरिका केपेलेटी ने भी सोशल मीडिया पर पाउलो के साथ फोटो पोस्ट कर कहा, “तुम्हारी तरह अनोखा और विशेष कोई नहीं होगा।”

दिग्गज स्ट्राइकर खिलाड़ी पाउलो ने अपने करियर में यूरोपियन लीग कप और प्रसिद्ध जुवेंटस फुटबॉल क्लब के साथ खेलते हुए कोपा इटालिया कप भी जीता था लेकिन उन्हें सबसे अधिक वर्ष 1982 के विश्वकप में इटली के अद्भुत प्रदर्शन करते हुए छह गोल दागने के लिए याद किया जाएगा।

जतिन राज

जारी वार्ता

Loading...