जौनुपर में मनाया गया देश की प्रथम महिला राज्यपाल का 141वाँ जन्मदिन

जौनुपर में मनाया गया देश की प्रथम महिला राज्यपाल का 141वाँ जन्मदिन

जौनपुर, 13 फरवरी(वार्ता)उत्तर प्रदेश के जौनपुर के सरावां गांव स्थित शहीद लाल बहादुर गुप्त स्मारक पर गुरूवार को लोगों ने महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, देश और उत्तर प्रदेश की प्रथम राज्यपाल एवं नाइटेंगिल ऑफ इंडिया के नाम से मशहूर श्रीमती सरोजनी नायडू का 141 वाँ जन्मदिन मनाया।
इस अवसर पर लोगों ने शहीद स्मारक पर मोमबत्ती व अगरबत्ती जलाया और दो मिनट का मौन रखकर आजादी के लड़ाई की पुरोधा श्रीमती नायडू को श्रद्धांजलि दी।
इस अवसर पर लक्ष्मी बाई ब्रिगेड की अध्यक्ष मंजीत कौर ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी श्रीमती सरोजनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 में आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में हुआ था। उन्होंने कहा कि महज 13 साल की अवस्था में श्रीमती नायडू ने लेडी ऑफ दी लेक नामक कविता अंग्रेजों के खिलाफ लिखी थीं , जिससे अंग्रेजों में इनके प्रति काफी आक्रोश रहा । उन्होंने कहा कि इनकी दूसरे व तीसरे कविता संग्रह वर्ड ऑफ टाइम और ब्रोकन बिंग से ये प्रसिद्ध हुई। वे हिंदी , अंग्रेजी, बंगला और गुजराती भाषा जानती थी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से प्रभावित होकर देश की आजादी के लिए कई आंदोलन व सत्याग्रह की अगुवाई की।
उन्होंने कहा कि देश आजाद होने के बाद ये उत्तर प्रदेश की प्रथम राज्यपाल बनीं। श्रीमती नायडू को प्रेम से नाइटेंगिल ऑफ इंडिया के नाम से भी पुकारा जाता रहा। दो मार्च 1949 को ये दुनिया से चली गयीं।
इस अवसर पर अनेक गणमान्य लोग मौजूद थे।

Loading...