देश में उच्च शिक्षा प्राप्त बेरोजगारों की दर 60 फीसद से अधिक -प्रिन्स कंसल

देश में उच्च शिक्षा प्राप्त बेरोजगारों की दर 60 फीसद से अधिक -प्रिन्स कंसल

इंडस्ट्रीज एन्ड ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन रजि0 के राष्ट्रीय महामंत्री और एम एल सी स्नातक चुनाव मेरठ खण्ड के प्रत्याशी प्रिन्स कंसल ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को देश में बढ़ती बेरोजगारी के मामलों पर गंभीरतापूर्वक आकड़ों पर आधारित पत्र लिखा है!!
एम एल सी स्नातक प्रत्याशी प्रिन्स कंसल ने पत्र में लिखा है कि वर्तमान समय में देश में बेरोजगारी की दर 7.5 फीसदी तक पहुंच गई है!जिनमें उच्च शिक्षा प्राप्त बेरोजगारों की दर बढ़कर 60.0 फीसदी से ऊपर चली गयी है!यहाँ महत्वपूर्ण बात यह है कि हाल समय में ग्रामीण भारत की तुलना में शहरी भारत में बेरोजगारी की दर बहुत ज्यादा है!जहाँ ग्रामीण भारत में बेरोजगारी की दर 6.8 फीसदी है वहीं शहरी भारत में इस दौरान बेरोजगारी की दर 9.0 फीसदी की रही है!जिसका सीधा सा अर्थ यह है कि शहरी भारत में बेरोजगारी की दर राष्ट्रीय औसत 7.5 फीसदी से भी ज्यादा हो गयी है,यह हाल तब है जबकि कुल बेरोजगारों में लगभग दो तिहाई हिस्सा ग्रामीण भारत में रहता है!!
पत्र में यह भी लिखा गया है कि शहरी या ग्रामीण भारत में उच्च शिक्षा प्राप्त बेरोजगारों की संख्या के जो आकड़े हैं वे डराने के लिए काफी है!CMIE जो कि सांख्यिकी मामलों की अति विश्वसनीय एजेंसी है के अनुसार देश में 20 से 24 वर्ष के युवाओं में बेरोजगारी की दर 37 फीसदी है जिनमें से स्नातक युवाओं की बेरोजगारी 63.4 फीसदी तक पहुँच गई है!
पत्र में प्रधानमंत्री जी से माँग की गई है कि सभी मामलों के साथ ही बेरोजगारी के मामलों पर गंभीरतापूर्वक चिन्तन करके समाधान निकालने का प्रयास किया जाना चाहिए!!

Loading...