आधार धारक 90 फीसदी भारतीयों को डाटा सुरक्षित होने का है विश्वास

आधार धारक 90 फीसदी भारतीयों को डाटा सुरक्षित होने का है विश्वास

नयी दिल्ली, 26 नवंबर (वार्ता) आधार को लांच हुए एक दशक हो गये और इस दौरान देशवासियों के लिए इसकी अहमियत बढ़ने के साथ-साथ इसके कारण लोगों के निजी डाटा के सुरक्षित होने या न होने का मुद्दा भी कई बार उठा है लेकिन एक सर्वेक्षण में यह सामने आया है कि 90 फीसदी आधार धारक भारतीयों को अपना डाटा सुरक्षित होने का विश्वास है।

सर्वेक्षण में पाया गया कि करीब 61 फीसदी आधार धारक भारतीयों को लगता है कि आधार अन्य को उनकी सेवाओं का लाभ लेने से रोकता है। इसके अलावा आठ फीसदी भारतीयों को आधार के दुरुपयोग की चिंता है और करीब दो फीसदी लेागों को आधार संबंधी धोखाधड़ी का सामना करना पड़ा है।

सलाहकार समूह डलबर्ग और निवेश फर्म ओमिडयार नेटवर्क इंडिया के सर्वेक्षण में यह खुलासा हुआ है। सर्वेक्षण के आधार पर सोमवार को जारी ‘स्टेट ऑफ आधार 2019’ नाम की यह रिपोर्ट देश के 28 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में करीब 1,67,000 लोगों के अनुभव पर आधारित है। रिपोर्ट में बताया गया है कि 95 फीसदी व्यस्क भारतीयों और 75 फीसदी बच्चों के पास आधार है लेकिन अभी भी दो करोड़ 80 लाख (28 मिलियन) भारतीयों के पास आधार नहीं है।

Loading...