अंबेडकर का नाम जपने के बजाय संविधान का पालन करें कांग्रेस और भाजपा : मायावती

अंबेडकर का नाम जपने के बजाय संविधान का पालन करें कांग्रेस और भाजपा : मायावती

लखनऊ 26 नवम्बर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस पर संवैधानिक मर्यादाओं की अनदेखी का आरोप लगाते हुये बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के नाम जपने के बजाय केन्द्र और राज्य सरकारों को संविधान की जनकल्याण की सही मंशा के हिसाब से काम करना होगा।

सुश्री मायावती ने मंगलवार को ट्वीट किया “ संविधान दिवस पर संविधान शिल्पी बाबा साहेब डा भीमराव अम्बेडकर का केवल नाम जपते रहने से काम नहीं चलेगा क्योंकि यही छल कांग्रेस भी करती रही है बल्कि केन्द्र व राज्य सरकारों को संविधान की जनहिताय/जनकल्याण की सही मंशा के हिसाब से पूरी निष्ठा/ईमानदारी से काम करना होगा यही मेरी सलाह है। ”

संविधान की 70वीं जयंती पर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने विधानसभा का विशेष सत्र आहूत किया है। महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रम के विरोध में कांग्रेस के सदस्यों ने सदन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया जबकि उसका साथ दे रहे मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) के नेताओं ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है। सपा सदस्यों ने संविधान की रक्षा की गुहार की और देश के लोगों से कहा कि ये सरकार का असली चेहरा अब दिखाई दे रहा है ।

कांग्रेस के विधायकों ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के इशारे पर महाराष्ट्र के राज्यपाल ने अल्पमत की सरकार बनवा दी है जिसे एक दिन भी सत्ता में रहने का हक नहीं है ।

उधर, संविधान दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां सरदार पटेल, संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उनके साथ विधि मंत्री ब्रजेश पाठक तथा मंत्रिमंडल के अन्य सहयोगी भी थे।

Loading...