बनारस में गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ाव जारी, यहां तक पहुंच गया पानी

बनारस में गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ाव जारी, यहां तक पहुंच गया पानी

वाराणसी. गंगा व वरुणा के जलस्तर में एक सप्ताह से अधिक समय से वृद्धि शुरू हुई है वह थमने का नाम नहीं ले रही है। लगातार पानी बढऩे से बाढ़ भयावह होती जा रही है। केन्द्रीय जल आयोग के अनुसार शनिवार को शाम सात बजे गंगा का अधिकतम जलस्तर 71.85 मीटर दर्ज किया गया। गंगा का पानी प्रति घंटे एक सेंटीमीटर की दर से बढ़ता जा रहा है। प्रयागराज में इस समय तक गंगा में हो रही वृद्धि कम हो गयी थी और वहां पर दो घंटे में एक सेंटीमीटर पानी बढ़ रहा था यदि प्रयागराज में गंगा का जलस्तर बढऩा बंद हो जाता है तो बनारस में भी गंगा स्थिर हो जायेगी। ऐसा नहीं हुआ तो पानी में बढ़ोतरी होती रहेगी।
पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में गंगा में लगातार पानी बढऩे से हजारों की आबादी प्रभावित हो गयी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद गंगा की बाढ़ देखने के लिए पहले हवाई सर्वे किया था इसके बाद बोट से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में जाकर राहत सामग्री बांटी थी। उस समय अनुमान लग रहा था कि गंगा का जलस्तर में वृद्धि थम सकती है लेकिन ऐसा नहीं हुआ। गंगा के साथ वरुणा का भी पानी लगातार बढ़ते हुए नये इलाकों में प्रवेश करता रहा है। बाढ़ के कारण बाढ़ प्रभावितों की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। जिन क्षेत्रों में बाढ़ आयी है वहां पर सुरक्षा की दृष्टि से बिजली काट दी गयी है इसलिए वहां पर रहने वालों को समस्या का समाना करना पड़ रहा है। आमतौर पर बनारस में 15 सितम्बर के बाद गंगा का पानी उतरने लगता था लेकिन इस बार गंगा लगातार बढ़ती जा रही है। गंगा की बढ़ोतरी जारी रही तो पिछला सारा रिकॉर्ड टूट सकता है। पानी के और बढऩे से शहर का बड़ा हिस्सा बाढ़ से प्रभावित हो जायेगा।

Loading...