MBBS की पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए बड़ी खबर, सरकार कर सकती है इस योजना को लागू

MBBS की पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए बड़ी खबर, सरकार कर सकती है इस योजना को लागू

वाराणसी. एमबीबीएस कर रहे छात्रों के लिए यह बड़ी खबर हो सकती है। पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस आये स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह ने इसका खुलासा किया है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एमबीबीएस करने वाले छात्रों से सरकार एक अनुबंध करने पर विचार कर रही है। अनुबंध हो जाने के बाद पढ़ाई पूरी कर चुके छात्रों से दो साल ग्रामीण क्षेत्र मे प्रैक्टिस करायी जायेगी। एक बार रोटेशन बन जायेगा तो प्रदेश से चिकित्सकों की कमी दूर हो जायेगी।


स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह ने मीडिया से बात करते हुए स्वीकार किया कि प्रदेश में सात हजार चिकित्सकों की कमी है। उन्होंने कहा कि पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी इस कमी को दूर करने का प्रयास किया था। विशेषज्ञ चिकित्सकों से अनुबंध कर उनकी सेवा लेने आदि पर काम चल रहा है। बनारस के अस्पतालों के निरीक्षण में खामी मिलने के प्रश्र पर कहा कि सभी महत्वपूर्ण अस्पतालों को जाकर देखा जा रहा है। एक दिन पहले चंदौली गये थे। सरकारी अस्पताल से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तक को देखा है वहां पर क्या दिक्कत है कहां पर डाक्टर या कर्मचारी की कमी है इसकी जानकारी ली गयी है।


 बाढ़ का पानी उतरने के बाद भी इन जगहों पर काम करती रहेगी चिकित्सकों की टीम 
बाढ़ प्रभावित लोगों को चिकित्सकीय सुविधा दिलाने के प्रश्र पर स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह ने कहा कि पहले ही दवाओं के साथ टीम को राहत शिविरों में तैनात किया गया है। बाढ़ का पानी उतरने के बाद भी प्रभावित क्षेत्रों में दवा का छिड़काव कराया जायेगा। वहां पर संभावित बीमारी को देखते हुए चिकित्सकों की टीम दवाओं के साथ पहले ही तैनात करने का निर्देश दिया गया है। ठेकेदार अवधेश श्रीवास्तव की मौत के बाद महिला अस्पताल के नये भवन का काम बंद हो जाने के प्रश्र पर कहा कि उसको भी देखा है जल्द ही इसका समाधान निकाला जायेगा। बताते चले कि स्वास्थ्य मंत्री जयप्रकाश सिंह ने शनिवार की सुबह मानसिक अस्पताल, दीनदयाल राजकीय अस्पताल, महिला अस्पताल, शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय अस्पताल व रामनगर स्थित लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्था देखी।

Loading...