दूसरा टेस्ट : भारत ने वेस्टइंडीज को 257 रनों से हराया, 2-0 से क्लीनस्वीप किया

दूसरा टेस्ट : भारत ने वेस्टइंडीज को 257 रनों से हराया, 2-0 से क्लीनस्वीप किया

किंगस्टन, 04 सितंबर । जमैका में खेले गये दूसरे टेस्ट के चौथे दिन भारत ने वेस्टइंडीज को 257 रनों से हराकर सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली है। दूसरी पारी के आधार पर भारत ने वेस्टइंडीज को 468 रनों का लक्ष्य दिया था, जिसके जवाब में कैरिबियाई टीम 210 रन ही बना सकी। हनुमा विहारी (111 रन और 53 नाबाद) को शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच मिला।

इस सीरीज में जीत के साथ ही भारत ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का शानदार आगाज किया है और सीरीज के पूरे 120 अंक बटोरे हैं।

भारत के 468 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की टीम जडेजा (58 रन पर तीन विकेट), शमी (65 रन पर तीन विकेट), इशांत शर्मा (37 रन पर दो विकेट) और जसप्रीत बुमराह (31 रन पर एक विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 59.5 ओवर में 210 रन पर सिमट गई। इस जीत के साथ विराट कोहली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान भी बन गए। उनकी अगुआई में यह भारत की टेस्ट मैचों में 28वीं जीत है। कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ा जिनकी अगुआई में भारत ने 27 टेस्ट जीते। भारत इसके साथ ही एक समय विश्व क्रिकेट के सिरमौर रहे वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार आठवीं टेस्ट श्रृंखला जीतने में सफल रहा।

दूसरे सत्र में हालांकि भारत ने जोरदार वापसी करते हुए 65 रन पर छह विकेट हासिल किए। वेस्टइंडीज ने दिन की शुरुआत दो विकेट पर 45 रन से की। मेजबान टीम के बल्लेबाजों ने पहले घंटे में भारतीय गेंदबाजों को सफलता से महरूम रखा जिन्होंने दिशाहीन गेंदबाजी की। ब्रूक्स ने शमी की दिन की पहली गेंद को ही चार रन के लिए भेजा। डेरेन ब्रावो (23) ने चौथे ओवर की पहली गेंद पर बुमराह पर चौका मारा लेकिन इसके साथ ही वह चक्कर आने जैसी स्थिति के कारण ड्रेसिंग रूम वापस लौट गए। कल बुमराह की बाउंसर पर चोटिल हुए ब्रावो को जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया और इसके बाद उन्हें मैच से बाहर होना पड़ा।

वेस्टइंडीज ने चक्कर आने से संबंधित आईसीसी के नए नियमों के तहत ब्लैकवुड को उनके विकल्प के तौर पर उतारने का फैसला किया। ब्रूक्स और रोस्टन चेस ने इसके बाद भारतीय गेंदबाजों को कुछ देर के लिए परेशान किया लेकिन पहले घंटे के ड्रिंक्स ब्रेक के बाद जडेजा ने चेस को पगबधा कर दिया। चेस ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन अंपायर काल के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। उन्होंने 12 रन बनाए। शिमरोन हेटमायर (01) भी इशांत के अगले ओवर में एक्सट्रा कवर पर मयंक अग्रवाल को बेहद आसान कैच देकर पवेलियन लौटे। ब्लैकवुड इसके बाद मैदान पर उतरे जो गेंद लगने पर चक्कर आने संबंधित नियम के तहत स्थानापन्न खिलाड़ी के रूप में खेलने वाले दूसरे क्रिकेटर बने।

Loading...