Mon. May 27th, 2019

कादीपुर कोतवाली पुलिस हुई सक्रिय 3 दिन के अंदर अपराधी हुआ गिरफ्तार

कादीपुर कोतवाली पुलिस हुई सक्रिय 3 दिन के अंदर अपराधी हुआ गिरफ्तार

कादीपुर कोतवाली पुलिस हुई सक्रिय 3 दिन के अंदर अपराधी हुआ गिरफ्तार

कादीपुर कोतवाली पुलिस हुई सक्रिय 3 दिन के अंदर अपराधी हुआ गिरफ्तार
प्रेमशंकर पांडेय
कादीपुर सुलतानपुर
कादीपुर कोतवाली पुलिस ने कल दिन शुक्रवार को समय लगभग 12:00 बजे दो अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफल हो गई. आपको बताते चलें कि 14 मई को कट सारी मैं स्कूल से घर जा रही दो छात्राओं को बैन सवार अपराधियों द्वारा जबरदस्ती पकड़कर गाड़ी में बैठाने का प्रयास अपराधियों द्वारा किया गया. लेकिन लड़कियों के शोर मचाने पर पास पड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए लोगों को आता देख अपराधी फरार हो गए. जिससे बड़ी अनहोनी होने से बच गई जिसकी लिखित तहरीर श्रीनिवास सिंह पुत्र राजेंद्र प्रसाद सिंह ग्राम कसारी ने कादीपुर कोतवाली में दी तहरीर पाते ही कादीपुर कोतवाली प्रभारी भूपेंद्र सिंह ने अज्ञात के खिलाफ धारा 363 511 के तहत मुकदमा दर्ज कर. अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी. अभी तीन ही दिन बीता था कि मुखबिर द्वारा कादीपुर कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की 14 मई की घटना में चांदा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बर्नभोका रे निवासी सतीश सिंह नामक व्यक्ति एवं उनके सहयोगी द्वारा की गई है. सूचना पाते ही कोतवाली प्रभारी भूपेंद्र सिंह के निर्देश पर उप निरीक्षक सैफुल्ला अहमद यस आई हनुमान प्रसाद यस आई सर्वेश कुमार व कांस्टेबल जितेंद्र कुमार मय फोर्स के साथ मुखबिर द्वारा बताए गए. उक्त स्थान पर जा पहुंचे पुलिस को आता देख सतीश सिंह भाग निकला। लेकिन तेजतर्रार यस आई सैफुल्ला खान ने घटना में सन लिप्त प्रिंस सिंह व विशेष सिंह पुत्र जगन्नाथ सिंह को धर दबोचा। थाने लाकर पूछताछ शुरू की तो पुलिस को इधर-उधर घुमाने लगे. लेकिन जब कादीपुर कोतवाली पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो दोनों अपराधियों ने अपनी जुर्म कबूल कर ली. और अपराधियों की निशानदेही पर उक्त घटना में शामिल गाड़ी संख्या up 44 IAF 53 35 को शाहपुर प्राइवेट स्कूल के पास से बरामद कर लिया गया. अपराधियों द्वारा यह भी बताया गया कि सतीश सिंह सभी अभियुक्तों को जानते पहचानते हैं. हम लोग उन्हीं के घर पर आए थे. और हम लोगों को मौज मस्ती कराने के लिए सतीश सिंह कर सारी मैं देवास मंदिर पर भी ले गए थे। वहीं कादीपुर पुलिस ने पकड़े गए अपराधियों का मेडिकल परीक्षण कराने के बाद जेल भेज दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed