Sat. Aug 24th, 2019

डी एम का आदेश जन शिकायतों का निस्तारण निर्धारित समय के अन्दर किये जायें

डी एम का आदेश जन शिकायतों का निस्तारण निर्धारित समय के अन्दर किये जायें

डी एम का आदेश जन शिकायतों का निस्तारण निर्धारित समय के अन्दर किये जायें

डी एम का आदेश जन शिकायतों का निस्तारण निर्धारित समय के अन्दर किये जायें
पहल टुडे रिपोर्ट
रिपोर्ट – वागीश कुमार
सुलतानपुर – ब्यूरो जिलाधिकारी सी0 इन्दूमती की अध्यक्षता में तहसील जयसिंहपुर सभागार में माह के तीसरे मंगलवार को आयोजित जनपद स्तरीय सम्पूर्ण समाधान दिवस में अधिकारियों को निर्देशित किया कि शासन के मंशानुरूप जन समस्याओं का निस्तारण निर्धारित समय सीमा के अन्दर गुणवत्तापूर्ण किये जायें तथा शिकायतकर्ता को पूर्ण रूप से संतुष्ट भी करना सुनिश्चित करें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता एवं हीला-हवाली कदापि बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में जन सुनवाई के दौरान एक-एक व्यक्तियों की समस्याओं को गम्भीरता पूर्वक सुनकर मौके पर उपस्थित सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जन शिकायतों का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर इस प्रकार किये जायें कि शिकायतकर्ता को बार-बार तहसील एवं सम्बन्धित अधिकारियों के पास चक्कर न लगाना पड़े। उन्होंने कहा कि यदि वही शिकायत दूसरी बार उनके संज्ञान में आयी, तो सम्बन्धित अधिकारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी, जिसके लिये वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। उन्होंने भूमि विवाद, भूमि पैमाइश व पुलिस प्रकरण को बहुत ही गम्भीरता से लेने के स्पष्ट निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी आपसी समन्वय स्थापित कर जन समस्याओं का निस्तारण समयबद्ध तरीके से करना सुनिश्चित करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस में डीएम ने कहा कि न्यायालय आर्डर को सम्बन्धित एसडीएम व तहसीलदार तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारी प्राथमिकता के साथ गम्भीरता से लें। उन्होंने कहा कि सभी खण्ड विकास अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में मनरेगा से तालाब व मेढ़ आदि का निर्माण तत्काल कराना सुनिश्चित करें। सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में मेहनत से कार्य करें तथा राजस्व लेखपाल अपने-अपने क्षेत्रों में वरासत कार्य व भूमि विवाद के प्रकरणों को तत्काल निस्तारित करायें। इस मौके पर डीएम से जमीनी विवाद के गोली कांड मृतक दीपेन्द्र शुक्ला, निवासी सिसौड़ा की मां और भाई द्वारा शिकायत की गयी कि पुलिस आरोपियों को पकड़ नहीं रही है, जिस पर जिलाधिकारी ने एसपी से अपेक्षा की कि इस प्रकरण को स्वयं देखें। शिकायतकर्ता को डीएम ने आश्वस्त किया। उन्होंने भीटी गांव में अग्नि कांड से पीड़ित महिलाओं की समस्या सुनते हुए आवास दिलाये जाने का आश्वासन दिया। जिला स्तरीय सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर कुल 292 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें राजस्व के 157, पुलिस के 39, विकास के 21 तथा अन्य विभागों के 75 जन शिकायती प्रार्थना पत्र डीएम के समक्ष प्रस्तुत हुए। मौके पर जिलाधिकारी ने 25 जन शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण सम्बन्धित अधिकारियों से कराया। शेष 267 प्रार्थना पत्रों को सम्बन्धित अधिकारियों को निस्तारण हेतु तत्काल भेजने का निर्देश उप जिलाधिकारी जयसिंहपुर राम अवतार को दिये। डीएम ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में पेयजल, पेंशन, विद्युत, आवास, पारिवारिक लाभ सहित विभिन्न प्रकरणों को गम्भीरता पूर्वक सुना और सम्बन्धित को निस्तारण का निर्देश दिया। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक हिमांशु कुमार द्वारा पुलिस से सम्बन्धित प्रकरणों की जन सुनवाई तथा मुख्य विकास अधिकारी मधुसूदन हुल्गी द्वारा विकास सम्बन्धी प्रकरणों की सुनवाई की गयी। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ0 सीबीएन त्रिपाठी, डीएफओ, जिला विकास अधिकारी, डॉ0 डी0आर0 विश्वकर्मा, परियोजना निदेशक(डीआरडीए), एस0के0 द्विवेदी, उप कृषि निदेशक, शैलेन्द्र शाही, जिला विद्यालय निरीक्षक, गिरीश कुमार सिंह, डीसी मनरेगा, विनय कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी, आर0बी0 सिंह, जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी, चन्द्रेश त्रिपाठी सहित अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, पुलिस उपधीक्षक जयसिंहपुर, दलवीर सिंह व सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी तथा भारी संख्या में शिकायतकर्ता आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: