Wed. Jul 17th, 2019

अज्ञातवास पर रहे बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव वापस आये

अज्ञातवास पर रहे बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव वापस आये

अज्ञातवास पर रहे बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव वापस आये

अज्ञातवास पर रहे बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव वापस आये
पहल टुडे स्टेट ब्यूरो
सीमा सिन्हा,पटना।
पटना। लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद से ही अज्ञातवास पर रहे बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव मानसून सत्र के पांचवे दिन आज विधानसभा में पहुंचे. सदन की कार्यवाही में भाग लेने पहुंचे तेजस्वी यादव का सदन में राजद विधायकों ने मेज थपथपाकर स्वागत किया. तेजस्वी यादव सोमवार को ही पटना पहुंचे थे, लेकिन वह विधानसभा नहीं जा रहे थे.
यहां बता दें कि पटना में रहते हुए भी तेजस्वी के सदन न जाने पर सत्ता पक्ष के लोगों ने न केवल सवाल खडे किए थे बल्कि इस्तीफे की भी मांग की थी. हालांकि आज भी तेजस्वी के सदन की कार्यवाही में आने के कोई संकेत नहीं थे. सुबह 11 बजे विधानसभा की कार्यवाही शुरू हो गई थी, लेकिन सदन की कार्यवाही शुरू होने के लगभग 45 मिनट के बाद तेजस्वी यादव लगभग 11:45 पर सदन पहुंचे हैं. तेजस्वी के सदन में आने के बाद ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि राजद का रूख पहले से ज्यादा हमलावर होगा. ऐसे में अब सभी की नजरें इस बात पर टिकी हैं कि सदन के अंदर नेता प्रतिपक्ष किस तेवर के साथ सरकार को घेरते हैं. वहीं, विधानमंडल के मॉनसून सत्र के पांचवें दिन भी विपक्षी दलों के सदस्यों ने सदन की कार्यवाही शुरू होते ही हंगामा शुरू कर दिया. इससे पहले विपक्षी दलों के सदस्यों ने बाहर प्रदर्शन किया. गुरुवार को सदन की कार्यवाई शुरू होते ही बिहार विधान परिषद में राजद के सदस्यों ने मुजफ्फरपुर में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से बच्चों की मौत और प्रदेश में सूखा के मद्देनजर हंगामा शुरू कर दिया. विपक्ष के हंगामे के बाद विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने दो बजे तक के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी.
बिहार विधानमंडल के मॉनसून सत्र के पांचवें दिन सदन की कार्यवाही शुरू होते हीं मुख्य सचेतक ललित यादव समेत कई राजद सदस्यों ने विधानसभा में प्रदेश में सूखे की समस्या को लेकर कार्यस्थगन प्रस्ताव दिया. जिसे विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने अस्वीकार कर दिया. वहीं, सत्र में भाग लेने के लिए सदन पहुंचे विपक्षी दलों के सदस्यों ने आज सुबह सदन के बाहर प्रदर्शन किया. सोन, गंडक, कोशी नहरों का आधुनिकीकरण करने, निचली छोर तक पानी का प्रबंधन करने और करवन जलाशय का शीघ्र निर्माण करने को लेकर भाकपा- माले के सदस्यों ने प्रदर्शन किया. उन्होंने सरकारी नलकूपों का चालू करने और आहर, पईन, कुआं, तालाब, चंवर, नदी-पहाड आदि को संरक्षित और पुनर्जीवित करने का पोस्टर हाथों में लेकर खडे थे. वहीं, राजद के सदस्यों ने भी बैनर-पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया. उन्होंने धान की फसल का उचित मुआवजा देने की मांग सरकार से की है.
वहीं बताया जा रहा है कि तेजस्वी वैशाली के हरिवंशपुर गांव का भी दौरा करेंगे, जहां एईएस से एक साथ 11 बच्चों की मौत हो गई थी. तेजस्वी राजद स्थापना दिवस और राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक के बाद दौरा करेंगे वह एईएस से मृत हुए बच्चों के परिजनों से मुलाकात करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: