सरकारी धनराशियों का हो रहा बंदरबांट

सरकारी धनराशियों का हो रहा बंदरबांट

चंद मोहन तिवारी

गाजीपुर।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय हो या ब्लाक संसाधन केन्द्र जहा देखिए मार्च के अन्तिम माह आते ही फर्जी बिलो की भुगतान की होड़ लग जाती है। इसके लिए सारे वित्तीय नियमो को ताक पर रख आवंटित धनराशि को आहरित करा दिया जाता है। ब्लाक संसाधन केन्द्रो व इनके कार्यालयों पर व्याप्त भ्रष्टाचार, ईमानदार व मेहनती शिक्षको के परिश्रम को मुर्तरूप नही लेने देता है। लाखांे रूपये के सरकारी धनराशियों का बंदरबाट कर दिया जा रहा है। जिसमें ब्लाक संसाधन केन्द्र मनिहारी, ब्लाक संसाधन केन्द्र जखनियंा, ब्लाक संसाधन केन्द्र मुहम्मदाबाद, बाराचंवर, देवकली, जमानियां, भदौरा में येनकेन प्रकारेण सरकारी धनो का स्वंय अधिकारी व कर्मचारियो द्वारा स्वंय के नाम चेक काटकर कर लिया गया।

किसी फर्म व पार्टी के नाम भुगतान नही किया गया और सीधे स्वंय मालिक बन उक्त धनराशियो को हजम कर लिया गया। जिसमें ब्लाक संधासन केन्द्र मनिहारी में लगभग 15 लाख रूपये को खण्ड शिक्षा अधिकारी सुदामा, एबीआरसी राधेश्याम यादव व चपरासी कर्मचारी दुर्गेश प्रसाद, अध्यापक हसरत शहनवाज अंसारी मुहम्मदाबाद को वित्तीय नियमो की दुरूपयोग करते हुए चेक द्वारा भुगतान कर आहरित कर लिया गया। रामप्रवेश राय ने बताया कि ब्लाक संशाधन केन्द्रो पर मात्र तीन मदो में ही सरकारी धनो का आवंटन होता है जिसमें शिक्षको के प्रशिक्षण के नाम पर, जनरेटर व स्टेशनरी ही आते है।

मदों का आहरण सेवा प्रदाता फर्मो को चेको के माध्यम से किया जाता है परन्तु खण्ड शिक्षा अधिकारी सुदामा के दबंगई के चलते सारे धनराशि स्वंय आहरित कर लिये जाते है या अपने कार्यालय के चपरासी के माध्यम से चेक काट कर आहरित कर लिये जाते है। इसकी जांच की मांग की गयी तो जांच अधिकारी को भी अपने प्रभाव लेकर जांच को प्रभावित कर मामला दबाने में लगे है। ब्लाक संशाधन केन्द्र मनिहारी के संयुक्त खाते का संचालन यूनियन बैंक आफ इण्डिया मनिहारी शाखा में खाता संख्या 426902010010758 से विभिन्न कर्मचारियो के नाम 15 लाख रूपये आहरित की गयी धनराशि की उच्चस्तरीय जांच होने से कई के चेहरे बेनकाब होने की उम्मीद जतायी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed