आसान नहीं है मुंबई इंडियंस की राह

मुंबई। मुंबई इंडियंस की टीम अब इंडियन प्रीमियर लीग में वापसी की राह पर लौटी है और अगर उसे अगले दौर में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को कायम रखना है तो रविवार को कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ कड़ी परीक्षा में अव्वल आना होगा।

गत चैंपियन टीम किंग्स इलेवन पंजाब पर तनावपूर्ण मैच में जीत दर्ज कर वापसी करती दिख रही है, हालांकि उनकी प्लेऑफ की उम्मीद अब भी अधर में लटकी है, क्योंकि बीते कुछ हफ्ते में उसे उलटफेर का सामना करना पड़ा।

इंदौर में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ कुणाल पंड्या और रोहित शर्मा के बीच 21 गेंदों में 56 रनों की पारी अब बीती बात है और अब मुंबई को वानखेड़े स्टेडियम में केकेआर को शिकस्त देनी होगी। मुंबई की टीम 9 मैचों में से 3 में जीत से 5वें स्थान पर जबकि केकेआर तीसरे स्थान पर काबिज है। मेजबान को प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए अपने बचे हुए सभी पांचों मैचों में फतह हासिल करनी होगी। मुंबई ने 4 घरेलू मैचों में से सिर्फ 1 में जीत हासिल की है।

सूर्यकुमार यादव (340 रन) शानदार फॉर्म में हैं और लगातार रन जुटा रहे हैं। लेकिन उनके सलामी जोड़दार एविन लुईस ने निराश किया है जिससे मेजबान टीम को अपनी सलामी जोड़ी पर दोबारा ध्यान देने की जरूरत है। हालांकि कप्तान रोहित शर्मा का रन जुटाना उनके लिए अच्छी बात है। विकेटकीपर ईशान किशन, जेपी डुमिनी, हार्दिक पंड्या और उनके भाई कुणाल ने पंजाब के खिलाफ अच्छा योगदान किया, वहीं खराब फॉर्म में चल रहे कीरोन पोलार्ड के फिर से बेंच पर बैठने की उम्मीद है जिनकी जगह बेन कटिंग को उतारा जाएगा।
मुंबई को डेथ ओवर में अपनी गेंदबाजी पर ध्यान देने की जरूरत है। अगर केकेआर के मजबूत बल्लेबाजी लाइनअप को रन जुटाने से रोकना है तो जसप्रीत बुमराह, कटिंग, युवा लेग स्पिनर मयंक मार्कंडेय और न्यूजीलैंड के मिशेल मैकलेनाघन को अपनी भूमिका अच्छी तरह निभाने की जरूरत है, वहीं केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक शानदार तरीके से कप्तानी कर रहे हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स पर 6 विकेट की शानदार जीत के बाद केकेआर की टीम तीसरे स्थान पर पहुंच गई और लगातार तीसरी जीत से उसकी अगले दौर में क्वालीफाई करने की उम्मीद को भी बल मिलेगा।

कार्तिक ने 9 मैचों में 280 रन बनाए हैं लेकिन वे अब भी सर्वाधिक रन जुटाने वाले शीर्ष 10 खिलाड़ियों की सूची से बाहर हैं। उनके बाद क्रिस लिन ने 260 और आंद्रे रसेल ने 207 रन
बनाए हैं। शीर्ष में सुनील नारायण और निचले क्रम में युवा शुभमन गिल के शानदार प्रदर्शन से केकेआर का बल्लेबाजी क्रम काफी मजबूत है। केवल उपकप्तान रॉबिन उथप्पा अपनी काबिलियत के मुताबिक नहीं खेल पाए हैं।

केकेआर की टीम में नारायण, पीयूष चावला और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के रूप में 3 बेहतरीन स्पिनर मौजूद हैं। अगर नीतिश राणा पीठ के दर्द के बाद वापसी करते हैं तो उनके आक्रमण में विभिन्नता आ जाएगी, वहीं तेज गेंदबाज टाम कुर्रान, अनुभवी मिशेल जॉनसन और शिवम मावी को अच्छा करने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com